शीश जटा में गंग विराजे गले में विषधर काले भजन लिरिक्स

शीश जटा में गंग विराजे गले में विषधर काले भजन लिरिक्स

शीश जटा में गंग विराजे,श्लोक – ॐ नाम एक सार है,जासे मिटत कलेश,ॐ नाम में छिपे हुए है,ब्रम्हा विष्णु महेश।। शीश जटा में गंग विराजे,गले में विषधर काले,डमरू वाले ओ डमरू वाले।। तुमने लाखो की बिगड़ी बनाई,अपने अंग भभूत रमाई,जो भी तेरा ध्यान लगाए,उसको सब दे डाले, डमरू वाले ओ डमरू वाले।। नित अंग पे … Read more

भोले तेरी जटा से बहती है गंग धारा भजन लिरिक्स

भोले तेरी जटा से बहती है गंग धारा भजन लिरिक्स

भोले तेरी जटा से, बहती है गंग धारा, शंकर तेरी जटा से, बहती है गंग धारा, काली घटा के अंदर, जु दामिनी उजाला, शंकर तेरी जटा से, बहती है गंग धारा।। गल में मुंड माला की साजे, शशि भाल में गंग विराजे, डम डम डमरू बाजे, कर में त्रिशूल धारा, शंकर तेरी जटा से, बहती … Read more

मैं हरियाणे का जाट बालाजी तेरी धज्जा चढ़ाऊंगा लिरिक्स

मैं हरियाणे का जाट बालाजी तेरी धज्जा चढ़ाऊंगा लिरिक्स

मैं हरियाणे का जाट बालाजी,तेरी धज्जा चढ़ाऊंगा,मन्नै रख ले अपने चरणां में,तेरी टहल बजाऊंगा,मन्नै रख ले अपने चरणां में,तेरी टहल बजाऊंगा,मै हरियाणे का जाट बालाजी,तेरी धज्जा चढ़ाऊंगा।। दाल चुरमे का भोग बणाया, तुं आकः भोग लगाईए, प्रेतराज और भैरव नै तुं, अपणी गैल्या लयाईए, तेरे और अंजनी मईया के हो हो हो, तेरे और अंजनी … Read more

दुनिया में झूठ अनेकों है पर जटा जुट सम जुट नही

दुनिया में झूठ अनेकों है पर जटा जुट सम जुट नही

दुनिया में झूठ अनेकों है, दोहा – राम राम भजबू करो,धरे रहो मन धीर,कारज तेरे सुधार है,कृपा सिंध रघुवीर।स्वांस स्वांस में हरी भजो,वृथा स्वांस मत खोय,ना जाने क्या स्वांस का,आवण होय या न होय।चित्रकूट की राम रज,परिक्रमा की धूल,ओलो ओलो परत शारीर पे,पाप होय सब दूर। दुनिया में झूठ अनेकों है,पर जटा जुट सम जुट … Read more

जटे दुनिया तो दर्शन करवा आवे मारा अवतारी

जटे दुनिया तो दर्शन करवा आवे मारा अवतारी

जटे दुनिया तो दर्शन करवा,आवे मारा अवतारी,आवे मारा कलयुगी,थोरी लीला ओ बाबा थे जानो।। अरे जूनी खराडी आबुरोड में,मन्दिर भारी बनीयो,अरे दुनिया तो दर्शन करवा,आवे मारा अवतारी,आवे बाबा रामदेवजी,ए थोरी लीला ओ बाबा थे जानो।। अरे आबुरोड री नगरी मायने,मेलो भारी लागे,अरे आबुरोड री नगरी मायने,मेलो भारी लागे,अरे भगत घनेरा दर्शन,आवे बाबा अवतारी,आवे बाबा रामदेवजी,ए … Read more

शिव तांडव स्तोत्रम लिरिक्स जटा टवी गलज्जल प्रवाह पावितस्थले

शिव तांडव स्तोत्रम लिरिक्स जटा टवी गलज्जल प्रवाह पावितस्थले

शिव तांडव स्तोत्रम लिरिक्स, जटा टवी गलज्जल प्रवाह पावितस्थले,गलेवलम्ब्य लम्बितां भुजङ्ग तुङ्ग मालिकाम्,डमड्डमड्डमड्डमन्निनाद वड्डमर्वयं,चकार चण्डताण्डवं तनोतु नः शिवः शिवम्।। जटा कटा हसंभ्रम भ्रमन्निलिम्प निर्झरी,विलो लवी चिवल्लरी विराजमान मूर्धनि,धगद् धगद् धगज्ज्वलल् ललाट पट्ट पावके,किशोर चन्द्र शेखरे रतिः प्रतिक्षणं मम:।। धरा धरेन्द्र नंदिनी विलास बन्धु बन्धुरस्,फुरद् दिगन्त सन्तति प्रमोद मानमानसे,कृपा कटाक्ष धोरणी निरुद्ध दुर्धरापदि,क्वचिद् दिगम्बरे मनो विनोदमेतु … Read more

जाटा में एक जाट हुयो जाट तेजल नाम को लिरिक्स

जाटा में एक जाट हुयो जाट तेजल नाम को लिरिक्स

जाटा में एक जाट हुयो,जाट तेजल नाम को। दोहा – जाटा में तेजाजी होया,दूजा धनजी जाट,तीजी करमा जाटनी,जाने पूजे युग संसार। जाटा में एक जाट हुयो,जाट तेजल नाम को,गौ रक्षा में प्राण दे दिया,धिन है चौधरी जाट को।। ताहङ जी रो लाल भलो रे,रामप्यारी रो लाडलो,गौ रक्षा में प्राण दे दिया,धिन है धरती पुत्र जाट … Read more

शिवजी की जटा में छुप जाने वाले नाग देवता त्राहि माम

शिवजी की जटा में छुप जाने वाले नाग देवता त्राहि माम

शिवजी की जटा में छुप जाने वाले,अरे शंकर के गले को सजाने वाले,विष्णु को सैया पे सुलाने वाले,शंकर के जटा मे छुप जाने वाले,नाग देवता त्राहि माम त्राहि माम,नाग देवता त्राहि माम त्राहि माम।। अरे कोमल कोमल अंग तिहारा हा आ,कोमल कोमल अंग तिहारा,श्याम वरण तेरा लागे प्यारा,श्याम वरण तेरा लागे है प्यारा,अरे झिलमिल झिलमिल … Read more

त्रिलोकी रो नाथ जाट घर बन गयो हाली रे भजन लिरिक्स

त्रिलोकी रो नाथ जाट घर बन गयो हाली रे भजन लिरिक्स

त्रिलोकी रो नाथ जाट घर,बन गयो हाली रे। अरे कुण जाने आ माया श्याम री,अजब निराली रे,त्रिलोकी रो नाथ जाट घर,बन गयो हाली रे,बन गयो हाली बन गयो हाली,बन गयो हाली रे त्रिलोकी रो नाथ,जाट घर बन गयो हाली रे।। भूरी भैस चमकनो पाडो,दो छाली दो नारा रे,भूरी भैस चमकनो पाडो,दो छाली दो नारा रे,बिना … Read more

भस्मी रमाये जटा गंग बहाए शिव भजन लिरिक्स

भस्मी रमाये जटा गंग बहाए शिव भजन लिरिक्स

भस्मी रमाये जटा गंग बहाए, दोहा – महाकाल वो हस्ती है,जिनसे मिलने को दुनिया तरसती है,और हम उसी महफिल में बैठते है गुरु,जहाँ महाकाल की महफ़िल सजती है।ना चिंता ना भय तो बोलो महाकाल की जय। बम बम भोले, बम बम भोले,बम बम भोले, बम बम भोले,बम बम भोले, बम बम भोले,भस्मी रमाये जटा गंग … Read more

close