मोहे रंग दे श्याम तेरे रंग में मोहे रंग दे भजन लिरिक्स

मोहे रंग दे श्याम,
तेरे रंग में मोहे रंग दे।।

तर्ज – रंग बरसे।



तेरे ही रंग में तो,

मीरा रंगी थी,
मेरो तो गिरधर गोपाल,
कहे सब से,
मोहे रंग दे,
मोहे रँग दे श्याम,
तेरे रंग में मोहे रंग दे।।



राधे को कैसों तू,

रंग चढ़ायो,
हो गई वो बेहाल,
गयो जब से,
मोहे रंग दे,
मोहे रँग दे श्याम,
तेरे रंग में मोहे रंग दे।।



नरसी भगत के,

चढ़यो रंग ऐसो,
नाचे वो नौ नौ ताल,
झूमे तब से,
मोहे रंग दे,
मोहे रँग दे श्याम,
तेरे रंग में मोहे रंग दे।।



जिसको भी तेरा,

ये रंग चढ़ा है,
मिटे सभी जंजाल,
मिले तुझसे,
मोहे रंग दे,
मोहे रँग दे श्याम,
तेरे रंग में मोहे रंग दे।।



‘बिन्नू’ को ऐसे ही,

रंग में भिगो दे,
अर्ज़ी सुन नंदलाल,
खड़ा कब से,
मोहे रंग दे,
मोहे रँग दे श्याम,
तेरे रंग में मोहे रंग दे।।



मोहे रंग दे श्याम,

तेरे रंग में मोहे रंग दे।।

Singer – Rajni Rajasthani


You May Also Like  तेरे चरण कमल में श्याम लिपट जाऊं रज बनके | Tere Charan Kamal Me Shyam Lipat Jaau Raj Banke
close