मैया काली कंकाली कालका हो माँ लिरिक्स | Maiya Kali Kankali kalka Ho Maa Lyrics

दुर्गा माता का भजन “मैया काली कंकाली कालका हो माँ लिरिक्स | Maiya Kali Kankali kalka Ho Maa Lyrics” Gafur Khan, Babli Sharma जी के द्वारा गाया हुआ है। दुर्गा माता का भजन, वीडियो और लिरिक्स दिया गया है।


Maiya Kali Kankali kalka Ho Maa Lyrics

मैया काली कंकाली ।
कालका हो माँ ।।

प्रथम हाथ में ढाल लिए ,
दूजे तलवार ।
तीजे में खप्पर संभाले ,
चौथे में कटार ।।

मैया काली कंकाली ।
कालका हो माँ ।।

पांचवे हाथ में गदा लए ,
छटे में त्रिशूल ।
सातवे में मुंड दानव को ,
छटे में त्रिशूल ।।

मैया काली कंकाली ।
कालका हो माँ ।।

खेद खेद के मारे माई ,
जोधा बलवान ।
संग लडे दानव के ,
भैरव हनुमान ।।

मैया काली कंकाली ।
कालका हो माँ ।।

काली काली लट बिखराए माँ ,
करे धनुष संघार ।
मैया खून पिए जिव्हा से ,
माँ करे किलकार ।।

मैया काली कंकाली ।
कालका हो माँ ।।

राम भजन दुर्गा भजन विष्णु भजन आरती
शिव भजन श्याम भजन गणेश भजन चालीसा
कृष्ण भजन हनुमान भजन साईं भजन स्तुति
गुरु भजन शनि भजन देशभक्ति स्तोत्र
लक्ष्मी भजन राधा भजन जैन भजन मीरा
Maiya Kali Kankali kalka Ho Maa Lyrics

हमें उम्मीद है की माँ दुर्गा के भक्तो को यह आर्टिकल “मैया काली कंकाली कालका हो माँ लिरिक्स | Maiya Kali Kankali kalka Ho Maa Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “ Maiya Kali Kankali kalka Ho Maa Lyrics ” पर आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये। आप अपनी फरमाइश भी हमे कमेंट करके बता सकते है। हम वो भजन, आरती आदि जल्द से जल्द लाने को कोशिश करेंगे।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए Properlyrics.com पर visit करे।

You May Also Like  काया नगर रे ओले डोले ज्ञान पपैया बोले भजन लिरिक्स
close