बाला जी में होली लिरिक्स | Bala Ji Me Holi Lyrics

पवन पुत्र हनुमान जी का अति पावन भजन “बाला जी में होली लिरिक्स | Bala Ji Me Holi Lyrics” – पवन नागर जी के द्वारा गाया गया है। इस भजन में श्रीराम के सबसे बड़े भक्त हनुमान जी की राम भक्ति बताया गया है।


Bala Ji Me Holi Lyrics

बाला जी में होली खेलेगे
भेरो भी संग में खेलेगे
प्रेत राज भी संग में खेलेगे
बालाजी में होली खेले गे

रे बाला जी संग होली खेले
मस्ती में हुए सब अलबेले
रंगों से तुझे नेहलायेगे
बालाजी में होली खेलेगे

रंग में रंगे भगत मत वाले
होली खेले घाटे वाले
सिंदूरी चोला चड़ाएगे
बालाजी में होली खेलेगे

छम छम नाचे अनजानी का लाला
केसरी नन्द राज दुलारा
होली में मंगल गायेगे
बालाजी में होली खेलेगे

रंग गुलाल अबीर उडत है
ढोलक कही मिरदंग वजत है
नगर सूद खुद को गायेगे
बालाजी में होली खेलेगे

Bala Ji Me Holi Lyrics

हमें उम्मीद है की श्री राम के भक्त हनुमान जी ये भजन का यह आर्टिकल “बजरंगबली मेरी नाव चली लिरिक्स | Bajrang Bali Meri Naav Chali Lyrics” + Video + Audio बहुत पसंद आया होगा। “Bajrang Bali Meri Naav Chali Lyrics” भजन के बारे में आपके क्या विचार है वो हमे कमेंट करके अवश्य बताये।

सभी प्रकार के भजनो के lyrics + Video + Audio + PDF के लिए Properlyrics.com पर visit करे।

You May Also Like  हारे का सहारा है ये श्याम धणी तो अपनी नैया का किनारा है
close