आओ भोग लगाओ मेरे मोहन भजन लिरिक्स

आओ भोग लगाओ मेरे मोहन,
आओ जी भोग लगाओं मेरे मोहन।।

ये भी देखें – आओ आओ सांवरिया बेगा आओ।



दुर्योधन की मेवा त्यागी,

साग विदुर घर खाओ मेरे मोहन,
आओ आओ भोग लगाओं मेरे मोहन।।



शबरी के बेर सुदामा के तंदुल,

प्रेम से भोग लगाओ मेरे मोहन,
आओ आओ भोग लगाओं मेरे मोहन।।



वृदावन की कुञ्ज गलीन में,

आओ रास रचाओ मेरे मोहन,
आओ आओ भोग लगाओं मेरे मोहन।।



राधा और मीरा भी बोले,

मन मंदिर में आओ मेरे मोहन,
आओ आओ भोग लगाओं मेरे मोहन।।



गिरी छुआरा किशमिश मेवा,

माखन मिश्री खाओ मेरे मोहन,
आओ आओ भोग लगाओं मेरे मोहन।।



सत युग त्रेता द्वापर कलयुग,

हर युग दरस दिखाओ मेरे मोहन,
आओ आओ भोग लगाओं मेरे मोहन।।



आओ भोग लगाओ मेरे मोहन,

आओ जी भोग लगाओं मेरे मोहन।।

गायक – कुमार विशु।


You May Also Like  चली जी भोले की बारात है लिरिक्स | chali Ji Bhole Ki Baraat Hai Lyrics
close